हाल ही में नेटफ्लिक्स पर एक डाक्यूमेंट्री आई थी, जिसे लगभग सभी ने देखा होगा,” द गेम चेंजर”. जाने माने निर्माता जेम्स कैमरों( अकादमी अवार्ड विनर- टाइटैनिक, अवतार मूवी के लिए) की बनाई ये डाक्यूमेंट्री आपकी खान पान की कुछ आदतों पर सवालियां निशान उठाती है. इसमें एनिमल प्रोटीन और मीट से जुड़ी डाइट को लेकर कई तरह के मिथ्स का भंडाफोड़ करने की कोशिश की गई है. ये इस बात को नकारती है कि अच्छा एथलिट बनने के लिए आपको एनिमल प्रोटीन ज़रूर चाहिए होता है. और इन सब के अलावा ये मूवी कहती है कि अगर आप वीगन बन जाते हैं तो ये आपके इरेक्शन में सुधार ला सकता है. इसमें यूरोलोजिस्ट डॉक्टर अरोन स्पिट्ज द्वारा की गई एक स्टडी को भी दिखाया गया है, जो काफी दिलचस्प है. इसमें कुछ रातों तक कॉलेज के तीन एथलिट अपने पेनिस के ऊपर एक रिंग पहनते हैं. जिसको डॉक्टर बाद में अलग- अलग पैरामीटर के हिसाब से मापता है.


कितने लंबे समय तक ये रिंग पहना गया? रात में कितनी बार उन्हें इरेक्शन महसूस हुआ?


शुरूआत में सभी एथलिट को बुरिटो डाइट दिया गया. पहले दिन उन्हें मीट बुरिटो दिया गया. दूसरे दिन प्लांट से मिलने वाले प्रोटीन से भरपूर बुरिटो दिया गया. उसके बाद जब रिजल्ट देखे गए तो एथलिट ने पाया कि उनके इरेक्शन में 500% तक बेहतर असर दिखाई दिया है. और इरेक्शन लंबा भी चला. सभी की रिजिडिटी  में 85% तक इजाफा हुआ. हालांकि ये स्टडी वैलिड नहीं मानी जा सकती है, पर फिर भी ये स्टडी बताती है कि खाने का असर आपकी पूरी तरह से सेहत और आपकी वेल बीइंग पर ज़रूर असर करता है.


प्लांट बेस्ड डाइट सेक्सुअल फंक्शन को अच्छा करने में करता है मदद

मोटे तौर पर ये देखा गया है कि प्लांट बेस्ड डाइट आपके सेक्सुअल फंक्शन को पहले से बेहतर कर देता है. इसका मुख्य कारण है कि प्लांट बेस्ड डाइट आपकी कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ के लिए अच्छा है जिससे शरीर में ब्लड फ्लो अच्छा हो जाता है. ब्लड फ्लो अच्छा होने से पेनिस तक भी खून अच्छे से पहुंचता है जो आपके इरेक्शन के समय को बढ़ा देता है और आप सेक्स करते हुए ज्यादा लंबे समय तक टिके रह सकते हैं.


इरेक्टाइल डिसफंक्शन की जांच करने के लिए बहुत ज्यादा रिसर्च की जरुरत है. यूँ ही इसके बारे में कुछ बोला नहीं जा सकता है. इसके साथ ही, सिल्डेनाफिल और तडालाफिल जैसी दवाएं इस समस्या से निपटने में मदद करती हैं। यहां कुछ अन्य विकल्पों में शॉक वेव थेरेपी शामिल हैं।


ईडी के जोखिम और एनिमल प्रोटीन के साथ संबंध

इरेक्टाइल डिसफंक्शन या ईडी को अक्सर बड़ी स्वास्थ्य समस्याओं का संकेत माना जाता है। इनमें एथेरोस्क्लेरोसिस, दिल की बीमारी, या शुगर - और कई अन्य समान रोग शामिल हो सकते हैं। यह जरूरी है कि यदि आप मीट बेस्ड डाइट का अधिक सेवन करते हैं, तो आपको ज्यादा सब्जियां, फल आदि का सेवन करने की कोशिश करनी चाहिए। खराब कोलेस्ट्रॉल और मांस, विशेष रूप से लाल मांस में वसा की मात्रा बढ़ जाती है, इसे दिल से जुड़ी समस्याओं की जड़ कहा जाता है।


सीफ़ूड जैसे लीनर मीट पर स्विच करने की कोशिश करें। धीरे-धीरे शाकाहारी (डेयरी, दूध, आदि) सहित पशु उत्पादों के सभी स्रोतों का मतलब है, वीगन में बदलाव करें। यदि आप ईडी या सेक्सुअल परफॉरमेंस के मुद्दों से पीड़ित हैं, तो वीगन होने से आपको स्वस्थ होने में मदद मिल सकती है। बेहतर हार्ट हेल्थ के साथ, ये सेक्सुअल परफॉरमेंस में भी सुधार ला सकता है।


dev