सेक्स आदि काल से ही जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। कुछ लोग सेक्स को वंश बढ़ाने का जरिया मानते रहे हैं, तो कुछ लोग इसे एक आनंददायक क्रिया मानते हैं। आमतौर पर सेक्स में पुरुष सक्रिय (Active) प्रतिभागी होता है और महिला अक्रिय (Passive) इसलिए पुरुष पर परफॉर्मेंस का दबाव ज्यादा होता है। अच्छे सेक्स के लिए पुरुष का शारीरिक-मानसिक रूप से फिट रहना जरूरी है, ताकि उसके लिंग में पर्याप्त खड़ापन बना रहे, मन में उत्तेजना रहे, महिला को ऑर्गेज्म तक पहुंचाने तक स्खलन को रोक सके और सेक्स के दौरान ऊर्जा की कमी न हो। अगर कोई पुरुष इन 4 में से किसी भी एक पहलू पर कमजोर साबित हो, तो सेक्स का आनंद अधूरा रह जाता है साथी असंतुष्ट रह जाता है।

Misters.in Bold पुरुषों में सेक्स के दौरान होने वाली परेशानियों, खासकर इरेक्टाइल डिसफंक्शन (नपुंसकता) के लिए वैज्ञानिक रिसर्च और अध्ययन के बाद 18 जड़ी-बूटियों से बना एक खास उत्पाद है। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या नपुंसकता का अर्थ है सेक्स के दौरान लिंग में पर्याप्त तनाव (खड़ापन) न होना। आमतौर पर इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण लिंग की मांसपेशियों में रक्त प्रवाह की कमी को माना जाता है। ऐसा कई शारीरिक और मनोवैज्ञानिक कारणों से हो सकता है जैसे- कार्डियोवस्कुलर बीमारियां (बंध धमनियां, हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल) और डिसऑर्डर्स (मोटापा, किडनी की समस्या), तनाव, चिंता, डिप्रेशन, अनहेल्दी लाइफस्टाइल, खाने की गलत आदतें, रिश्तों की परेशानियां, ड्रग्स की लत आदि।

वर्तमान समय में एलोपैथी में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लिए सिर्फ एक स्वीकृत दवा है, सिल्डेनाफिल, जिसे वियाग्रा के नाम से भी जानते हैं। वियाग्रा काम तो करती है, लेकिन अन्य एलोपैथिक दवाओं की तरह इसके भी कुछ साइड इफेक्ट्स होते हैं, खासकर हार्ट पर इसका नकारात्मक असर देखा गया है। चूंकि इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के ज्यादातर मरीजों में हार्ट की समस्या भी पाई जाती है, इसलिए वियाग्रा का प्रयोग नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे में आयुर्वेदिक दवा एक बेहतरीन विकल्प है। ये न सिर्फ आपको सेक्स के तुरंत पहले बेहतर परफॉर्म करने की ताकत देती है, बल्कि आपकी समस्या धीरे-धीरे जड़ से खत्म कर देती है।

Misters.in Bold में 18 जड़ी-बूटियां हैं, जिनमें विश्व-विख्यात अश्वगंधा, गोक्षुर, शिलाजीत, मस्तकी, केसर, विदारीकंद और अकरकरा आदि शामिल हैं।

अश्वंधा- रिसर्च में अश्वगंधा को शारीरिक-मानोवैज्ञानिक दोनों समस्याओं में फायदेमंद पाया गया है। कई क्लीनिकल स्टडीज बताती हैं कि अश्वगंधा का प्रयोग तनाव और चिंता को कम करने में सहायक है और टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बढ़ाने में भी फायदेमंद है। इसलिए ये व्यक्ति में सेक्स की इच्छा और क्षमता दोनों बढ़ाता है। अश्वगंधा शरीर में ऊर्जा का संचार करता है, जिससे थकान दूर होती है और शरीर को आराम मिलता है।

केसर- केसर के बारे में भी दुनियाभर में खूब अध्ययन किया गया और पाया गया है कि केसर में कामोत्तेजना बढ़ाने वाले गुण होते हैं। इसके अलावा केसर मानसिक तनाव को कम करता है और मस्तिष्क को रिलैक्स करता है। ये दोनों ही समस्याएं पुरुषों की सेक्स परफॉर्मेंस को खराब करती हैं।

गोक्षुर- गोक्षुर शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड की मात्रा बढ़ाता है और ये नाइट्रिक ऑक्साइड लिंग में खड़ापन बनाए रखने में मदद करता है।

शिलाजीत- शिलाजीत भी सेक्सुअल समस्याओं के लिए एक मानी-जानी प्राकृतिक औषधि है, जिसमें फुल्विक एसिड की मात्रा अच्छी होती है। फुल्विक एसिड शरीर को रिलैक्स करता है और लिंग में रक्त प्रवाह को तेज करता है, जिससे पुरुष देर तक और पूरी पावर के साथ सेक्स कर पाता है।

मस्तकी- मस्तकी पौधे से प्राप्त होने वाला गोंद जैसा एक पदार्थ है, जिसमें जिंक की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। जिंक सेक्सुअल फंक्शन के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व है, जो टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढ़ाता है।

विदारीकंद- विदारीकंद एंटीऑक्सीडेंट्स का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। ये ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस कम करते हैं, जिससे टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बढ़ता है और शरीर लंबे समय तक जवान बना रहता है।

अकरकरा- अकरकरा शरीर में हार्मोन्स का लेवल बेहतर करके आपकी कामोत्तेजना को बढ़ाता है, जिससे आपके लिंग में देर तक खड़ापन बना रहता है।

इसके अलावा इसमें मौजूद अन्य आयुर्वेदिक औषधियां भी लिंग की मांसपेशियों में रक्त प्रवाह बढ़ाने, खड़ेपन को बनाए रखने, तनाव कम करने और कामोत्तेजना बढ़ाने के लिए विशेष प्रभावी हैं।

यही नहीं Misters.in Bold का आयुर्वेदिक इंग्रीडिएंट पोटेंसी स्कोर (AIPS) 16.05 है और साइंटिफिक रिसर्च कोशेंट (SRQ) स्कोर 2.95 है, जो बाजार में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लिए मौजूद किसी भी अन्य आयुर्वेदिक प्रोडक्ट से ज्यादा है। मिस्टर्स डॉट इन बोल्ड के निर्देश यहां पढ़े | आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें |

mistrers bold for men