शिलाजीत पर्वतीय स्थानों पर मिलने वाला एक हर्बोमिनरल पदार्थ है। सेक्सुअल समस्याओं की चिकित्सा में शिलाजीत का प्रयोग सैकड़ों वर्षों से सफलता पूर्वक किया जा रहा है। इसके साथ साथ शिलाजीत सेक्स पॉवर को बढ़ाने और मेंटेन करके रखने में भी कारगर होता है, इसीलिए इसे इंडियन वियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है| शिलाजीत में फॉसील्ड रूप में अनेक मूल्यवान और प्रभावशाली जड़ी बूटियां होती हैं। साथ ही इसमे पाए जाने वाले फ्लूविक एसिड और ह्यूमिक एसिड भी अनेक तरह के ऐसे मिनरल्स से भरपूर होते हैं जो वाजीकरण क्षमता को बढ़ावा देते हैं।


स्पर्म हैल्थ

रिसर्च से सामने आया है कि शिलाजीत के सेवन से पुरुषों में स्पर्म बनने की दर में बढ़ोतरी होती है। साथ ही इसके उपयोग से स्पर्म हैल्थ और मोटालिटी में भी सुधार आता है। इस विषय पर की एक रिसर्च में नपुंसकता की समस्या से ग्रस्त 60 पुरुषों को शामिल किया गया। इन सभी को 90 दिनों तक दिन में दो बार शिलाजीत  का सेवन कराया गया। स्टडी के रिजल्ट के अनुसार शिलाजीत के नियमित सेवन से टोटल स्पर्म काउंट में लगभग 62 प्रतिशत की वृद्धि, और स्पर्म मोटालिटी में 12 प्रतिशत की होती है।

टेस्टोस्टेरॉन लेवल

टेस्टोस्टेरॉन मुख्य सेक्स हार्मोन है, यह सेक्स सम्बंधित सभी गतिविधियों को सीधे प्रभावित करता है। इसके कम होने पर शरीर में मांसपेशियों का कमजोर होना, थकान, फैट का बढ़ोतरी, बालों का झड़ना, कामेच्छा की कमी आदि लक्षण मिलने लगते हैं| बॉडी में टेस्टोस्टेरॉन लेवल पर शिलाजीत का क्या असर होता है इसे पता करने के लिए एक क्लीनिकल स्टडी की गई, जिसमें 45 से 55 वर्ष के पुरुषों का चयन किया गया। इसमे से आधे सदस्यों को शिलाजीत का सेवन कराया गया और बाकी को प्लेसिबो का सेवन कराया गया 90 दिनों के बाद टेस्ट करने पर, जिस ग्रुप को प्यूरीफाई शिलाजीत दिया गया था उनमे  टेस्टोस्टेरॉन का लेवल दूसरे ग्रुप से अधिक निकला।

शिलाजीत के नियमित सेवन से टेस्टोस्टेरॉन का लेवल बूस्ट होता है, और आनंद दायक सेक्स ड्राइव का अनुभव लिया जा सकता है।

फाइटोथेरेपी रिसर्च में पब्लिश एक अन्य स्टडी रिपोर्ट के अनुसार सामान्य तौर पर पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन का लेवल 300 से 900 नैनोग्राम प्रति डेसी लीटर होता है। रेगुलर शिलाजीत का सेवन करने पर इसमे 20 परसेंट तक कि वृद्धि हो जाती है।

परफॉर्मेंस बूस्टर

शिलाजीत पुरुषों में सेक्सुअल परफॉर्मेंस को बढ़ाने में जादुई दवा की तरह कार्य करता है। इसके सेवन से पेनिस की ब्लड वेसल्स में भरपूर ब्लड सप्लाई होती है, जिससे हार्ड इरेक्शन पाने में सहायता मिलती है। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का सामना कर रहे पुरुषों के लिए यह बहुत लाभदायक है। शिलाजीत में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स नर्वस सिस्टम को बूस्ट करते है, इससे शीघ्रपतन  की समस्या भी दूर होती है, और लंबे समय तक बिस्तर में टिके रहने की क्षमता बढ़ती है।

शिलाजीत के एनर्जी बूस्टर प्रभाव से जोश को बढ़ाने में मदद मिलती है, इसके सेवन से एंग्जायटी और स्ट्रैस को दूर करने में भी सफलता मिलती है। इस तरह से यह कामेक्षा की कमी को भी ठीक करता है।

फीमेल हैल्थ

पुरुषों के साथ साथ शिलाजीत महिलाओं की सेक्सुअल हैल्थ के लिए भी बहुत लाभदायक है। इस सम्बंध में जर्नल ऑफ एथनोफार्मकोलोजी में एक स्टडी रिपोर्ट पब्लिश हुयी। इस स्टडी में रिसर्चर्स ने फीमेल रैट के ऊपर शिलाजीत का प्रयोग किया जिससे उनका ओवुलेशन पीरियड पांच दिनों से बढ़कर सात दिन तक हो गया। इस रिसर्च से यह सामने आया कि शिलाजीत से महिलाओं में ओवुलेशन में सुधार आता है।

इसके अलावा इसके सेवन से महिलाओं में लॉस ऑफ लिबिडो, स्ट्रैस, एंग्जायटी भी दूर होकर सेक्सुअल डिज़ायर में बढ़ोतरी होती है| यह स्पष्ट है कि शिलाजीत बेडरूम लाइफ को आनंददायक बनाने में कारगर है। इसका इस्तेमाल दोनो ही पार्टनर कर सकते हैं। वैसे तो यह एक सेफ हर्बल प्रोडक्ट है, लेकिन इसका इस्तेमाल प्राकृतिक रूप से नहीं करना चाहिए इसे प्यूरिफिकेशन के बाद ही यूज़ करना चाहिए। ज्यादातर लोगों में इसके कोई भी साइड इफेक्ट नहीं आते। फिर भी यदि आप किसी गंभीर बीमारी  की दवाएं ले रहे हैं, तो शिलाजीत को लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

shilajit-benefits-for-vigour