रेगुलर वर्कआउट के ढेर सारे फायदे हैं। इससे आपका शरीर तो शेप में रहता ही है, साथ ही हार्टअटैक का खतरा कम होता है, मेंटल हेल्थ और मूड अच्छा रहता है, ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है। इन सबके अलावा, एक खास फायदा और है कि वर्कआउट से आपकी सेक्शुअल हेल्थ और स्टैमिना बेहतर होते हैं। इसका कारण यह है कि एक्सरसाइज आपके शरीर में फील गुड केमिकल एंडॉरफिन्स को बढ़ाती है और स्ट्रेस हार्मोन कॉर्टिसोल को घटाती है। इससे आपका सेक्स ड्राइव अच्छा रहता है और तनाव, चिंता जैसी मानसिक समस्याएं दूर रहती हैं। लेकिन अति हर चीज की बुरी होती है और ऐसा वर्कआउट या एक्सरसाइज के साथ भी है।

ज्यादा एक्सरसाइज हो सकती है नुकसानदायक

एक नई रिसर्च के अनुसार बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करने से व्यक्ति की कामुकता कम हो सकती है। इस रिसर्च को चैपल हिल के नॉर्थ कैरोलिना यूनिवर्सिटी द्वारा किया गया। रिसर्च के लिए 18 साल साल से बड़ी उम्र के लगभग 1100 लोगों को चुना गया। शोधकर्ताओं ने पाया कि जो पुरुष लो-डेंसिटी वर्कआउट कर रहे थे, उनमें कामुकता कम होने के मामले, हाई-डेंसिटी वर्कआउट करने वालों की अपेक्षा 7% कम पाए गए। शोध में पारदर्शिता के लिए वैज्ञानिकों ने सभी पुरुषों की फिजिकल एक्टिविटीज के साथ सेक्शुअल हिस्ट्री, फैंटेसी, इच्छाएं, आकर्षण और सभी प्रकार की सेक्शुअल गतिविधियों को भी अध्ययन में शामिल किया।

यह शोध मुख्यतः इंड्योरेंस एक्सरसाइज या एरोबिक एक्सरसाइज पर आधारित था, जिसमें वॉकिंग, जॉगिंग, स्विमिंग और बाइकिंग आदि शामिल थे। ऐसा माना जाता है कि ये एरोबिक एक्सरसाइज आपके हार्ट, फेफड़ों और सर्कुलेट्री सिस्टम को स्वस्थ रखती हैं और पूरे शरीर की फिटनेस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। यही कारण है कि इस शोध में ऐसे लोगों को भी शामिल किया गया, जो रेगुलर साइकिल चलाते थे या दौड़ते और स्विमिंग करते थे।

क्या है एक्सरसाइज और लिबिडो में संबंध?

शोध के अनुसार, ऐसे पुरुष जो ज्यादा समय तक मेहनत वाली एक्सरसाइज कर रहे थे, उनकी कामुकता (लिबिडो) में कमी पाई गई। इसका एक कारण यह हो सकता है कि ज्यादा वर्कआउट के कारण टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन सप्रेस हो जाता है, जिसके कारण शरीर में एक खास स्थिति पैदा हो जाती है, जिसे एक्सरसाइज हाइपोगॉन्डल मेल कंडीशन कहते हैं। इसके अलावा दूसरा कारण यह भी हो सकता है कि ज्यादा मेहनत के कारण शरीर और मस्तिष्क दोनों ही थक जाते हैं और व्यक्ति में सेक्स की इच्छा कम हो जाती है।

फिटनेस के लिए दीवानगी सही नहीं

चूंकि यह भी माना जाता है कि एक्सरसाइज के द्वारा पुरुष अपनी फर्टिलिटी को सुधार सकते हैं, इसलिए आपको यह खबर पढ़कर एक्सरसाइज से नहीं डरना चाहिए। वैज्ञानिकों के अनुसार अगर आप बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं और फिटनेस के लिए दीवानगी की हद तक पागल हैं, तो ऐसी आदत को छोड़ दें। एक्सरसाइज की समय सीमा निर्धारित करें। शरीर की क्षमता बढ़ाने और फिटनेस पाने के लिए सिर्फ एक्सरसाइज ही नहीं, बल्कि आराम और सेहतमंद खानपान भी बहुत जरूरी है।

ध्यान रखने योग्य बातें

ध्यान दें कि ये अध्ययन उन पुरुषों पर किया गया है, जो पहले से ही लंबे समय से फिजिकल एक्टिविटीज और वर्कआउट करते रहे हैं। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति बहुत अधिक ठहराव भरा जीवन जी रहा है और अचानक से फिटनेस के लिए एक्सरसाइज शुरू करता है, तो संभव है उसका शरीर एक्सरसाइज के प्रति अलग तरह से रिएक्ट करे। इसलिए अगर आप रेगुलर एक्सरसाइज करते हुए अपनी सेक्शुअल लाइफ में कोई बदलाव देखते हैं, तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यह भी ध्यान रखें कि अगर किसी व्यक्ति की कामुकता में कमी आई है, तो सीधे अपने एक्सरसाइज रूटीन को ही दोषी न मान ले क्योंकि ऐसे सैकड़ों कारण हो सकते हैं, जो आपकी कामुकता को बाधित करते हैं। इसलिए सही जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करना ही बेहतर है।

Medically reviewed by Rishabh Verma, RP